Asian Champions Trophy: जापान को 5-0 से हराकर फाइनल में पहुंचा भारत

Asian Champions Trophy: भारतीय हॉकी टीम ने शुक्रवार (11 अगस्त) को चेन्नई के मेयर राधाकृष्णन स्टेडियम में खेले गए Asian Champions Trophy (एसीटी 2023) के दूसरे सेमीफाइनल में जापान को 5-0 से हरा दिया। तीन बार के चैंपियन भारत ने शुरू से ही आक्रामक हाई प्रेस हॉकी रणनीति अपनाई। इसके विपरीत, जापान ने रक्षात्मक दृष्टिकोण अपनाया, भारतीय टीम के निरंतर हमलों का सामना करने के लिए अपने खिलाड़ियों को अपने क्षेत्र में गहराई से रखा।

Asian Champions Trophy

मैच के दौरान भारत के लिए शुरुआती गोल करने का मौका पेनाल्टी कॉर्नर के जरिए आया। हालांकि, जापान के गोलकीपर ताकाशी योशिकावा ने आत्मविश्वास के साथ शॉट बचाते हुए अपने कौशल का प्रदर्शन करते हुए भारतीय टीम के कप्तान हरमनप्रीत सिंह को गोल करने से रोक दिया।

भारतीय टीम ने खेल की गति को निर्धारित किया और गेंद के कब्जे का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाए रखा, जिससे जापान कैच-अप हॉकी खेलने की स्थिति में आ गया।

पहला क्वार्टर गोलरहित रहने के बाद भारत 19वें मिनट में इस गतिरोध को तोड़ने में सफल रहा जब आकाशदीप सिंह ने हार्दिक सिंह के शुरुआती शॉट के बाद रिबाउंड का फायदा उठाया। जापान के दूसरे गोलकीपर ताकुमी कितागावा ने इस प्रयास को नाकाम कर दिया।

Asian Champions Trophy

भारत ने दबाव बनाना जारी रखा और 23वें मिनट में दूसरा पेनल्टी कॉर्नर हासिल किया। भारतीय कप्तान हरमनप्रीत सिंह ने जापानी गोलकीपर के बायीं ओर जोरदार शॉट मारकर स्कोरबोर्ड पर भारत की बढ़त को दोगुना कर दिया।

Asian Champions Trophy

हाफ टाइम से ठीक पहले भारत ने मनदीप सिंह के गोल की मदद से स्कोर 3-0 कर दिया।

भारत के लिए तीसरा गोल हासिल करने में मनप्रीत सिंह ने अहम भूमिका निभाई। उन्होंने मिडफील्ड में गेंद को रोका और तीन जापानी डिफेंडरों को कुशलता से पीछे छोड़ा, जिससे मनदीप सिंह के लिए एक मौका बन गया। मनदीप को गोल हासिल करने के लिए केवल गेंद को नेट में ले जाने की जरूरत थी।

Asian Champions Trophy

दूसरे हाफ में भी यह लय बरकरार रही और भारत ने अपना आक्रामक रवैया बरकरार रखते हुए जापानी गोल पर लगातार दबाव बनाया। सुमित का गोल टूर्नामेंट के मुख्य आकर्षण के रूप में सामने आया, क्योंकि उन्होंने चुनौतीपूर्ण कोण से एक उल्लेखनीय बैक स्टिक फ्लिक को अंजाम दिया। इस शानदार गोल को मनप्रीत के शानदार सेटअप ने मदद की, जिन्होंने दाएं फ्लैंक पर कब्जा हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की थी।

51वें मिनट में युवा कार्थी सेल्वम ने भारत की बढ़त को 5-0 तक पहुंचा दिया। उन्होंने सुखजीत सिंह के पास का फायदा उठाया जिन्हें हरमनप्रीत ने शानदार हवाई गेंद फेंकी।

Asian Champions Trophy:

फाइनल में शनिवार को भारत का सामना मलेशिया से होगा। इस बीच जापान तीसरे-चौथे स्थान के प्ले आफ मैच में गत चैम्पियन दक्षिण कोरिया से भिड़ेगा।

Also Read Bhola Shankar: आज हुई रिलीज फिल्म भोला शंकर, इतना रहा first day box office collection

Leave a Reply