Amit shah ने Gwalior में कार्यकर्ताओं को दिलाया 150 सीटो पर जीत का संकल्प

Amit shah ने Gwalior दौरे पर भाजपाइयों में जोश भरा। केन्द्रीय गृहमंत्री Amit shah ने आज Gwalior में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भाजपा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में जोश भरा। उन्होने जीत का महामंत्र देते हुये कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता अपने पूर्वजों कुशाभाउ ठाकरे , सुंदर सिंह भंडारी जैसे कर्मठ कार्यकर्ताओं के त्याग को देखते हुए उनके कार्य में मन में संजोते हुये अपने स्वयं के अहं को गड्ढे में दबाते हुये मध्यप्रदेश में 150 सीटों को जीतने का संकल्प लेकर क्षेत्र में जाकर कार्य करें।

वहीं 2024 में मध्यप्रदेश से 29 सीटों पर विजय का संकल्प भी दोहरायें । क्योंकि यहां की जीत ही केन्द्र में नरेन्द्र भाई मोदी की सरकार को तीसरी बार सत्ता में लायेगी। केन्द्रीय मंत्री Amit shah ने आज प्रदेश कार्यसमिति को संबोधित करते हुये कहा कि मैं जब मध्यप्रदेश और Gwalior आया तो सोचा कि मैं क्या संबोधन दूं। में यहां देख रहा हूं कि यहां तो चार पीढियों के कार्यकर्ता बैठे हैं वहीं ग्वालियर जो कुशाभाउ तथा पंडित दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद, अटल बिहारी वाजपेयी की कर्मस्थली रही है और जिस पार्टी जनसंघ को राजमाता विजयाराजे सिंधिया ने सींचा है मैं उन कार्यकर्ताओं को क्या संदेश दूं।

Amit shah ने कहा मैं कार्यकर्ताओं को जगाने आया हूँ

उन्होंने कहा कि में तो बस कार्यकर्ताओं को जगाने आया हूं। Amit shah ने रामायण काल की एक कहानी का उदाहरण देते हुये कहा कि भगवान राम ने हनुमान को सीता की खोज के लिऐ भेजा हनुमान जी समुद्र के पास आकर संशय में पड गये तभी रीछ राज जामवंत ने हनुमान से कहा कि आप तो खेल खेल में ऐसे समुद्र को पार कर जाते हो और जामवंत की बात सुनकर हनुमान ने भगवान राम के असंभव कार्य को लंका जाकर पूरा किया।

Amit shah ने कहा कि इसी प्रकार से भाजपा के कार्यकर्ता है जो यदि मन में सोच लें तो वह राज्य में 150 सीटों की जीत को पूरा कर सरकार को बनवा सकते हैं। वहीं उन्होंने दूसरी कहना गीता के उपदेश की बताते हुये कहा कि बचपन में उन्होंने डेंगरे जी महाराज से प्रश्न पूछा था कि इतनी लडाई हो रही है सेनाएं है तो कैसे विजय पाई जा सकती है। इस पर डेंगरे जी महाराज ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन से कहा कि मैंने तुम्हें जो उपदेश दिये हैं उनके साथ ही धनुष उठाकर युद्ध करो ।

Amit shah ने कहा कि यहां बैठे कार्यकर्ताओं ने अनेकों चुनावों को जीता हारा है। आज उसी मनन को करने की कार्यकर्ता की जरूरत है। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश में सर्वाधिक बार सरकार बनाने का रिकार्ड भी कार्यकर्ताओं के खाते में है और 2014 में 27 और 2019 में 28 सीटों को जिता कर केन्द्र में नरेन्द्र मोदी की सरकार बनाई है।

Amit shah ने कहा छिंदवाड़ा सीट से करे जीत की शुरुआत

उन्होंने कहा कि 2024 में अब छिंदबाडा से जीत की शुरूआत करना होगी और सभी 29 सीटों पर जीत हासिल कर भगवा को लहराना होगा।उन्होंने कहा कि इसके बाद बंटाधार और कमलनाथ की जोडी भविष्य में चुनाव लडने की नहीं सोचे। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि हमारे उददेश्य पवित्र है और दलित और आदिवासी के हित में है। उन्होंने कहा कि विजय कोई अजूबा नहीं है ।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रत्येक कार्यकर्ता विधानसभा में बूथ स्तर पर संकल्प कर ले कि हम 50 प्रतिशत से ज्यादा एक वोटर लिस्ट के पेज के वोट भाजपा के पक्ष में डलवायेंगे तो कोई भी ताकत चुनाव में विजय को रोक नहीं सकती है।

2018 में भी भाजपा को एक लाख वोट ज्यादा मिला लेकिन तत्कालीन परिस्थिति जाति वाद, तुश्टिकरण और परिवार वाद के रास्ते पर चलकर कांग्रेस ने विजय हासिल कर ली थी। उन्होंने कहा कि अब हर बूथ को जीतने का संकल लें कि बूथ पर जिताना ही है।

Amit shah ने कहा कि ऐसे एतिहासिक पल होते हैं जब देश दोराहे पर होता है। जब दल देश आगे रखना होता है। उन्होने कहा कि भाजपा आगे बढेगी भी और जीतेगी भी। उन्होंने कहा कि 1925 से चल रही यात्रा में लक्ष्य के साथ आज हम कहां खडे हैं और भाजपा ने अपने किये वादे क्या पूरे किये हैं यह भी तय करना होगा। उन्होंने कहा कि काश्मीर से धारा 370 हटाने की कही वह हटाई, भव्य राम मंदिर बनाने कहा वह बन रहा है।

तुष्टिकरण दूर कर तीन तलाक समाप्त किया। वहीं शरणार्थियों को सीएए लाकर दीनदयाल जी के सपनों को पूरा किया।केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि सेना के सम्मान के लिए अमेरिका और इजराइल जाने जाते थे लेकिन अब उसमें ही भारत का नाम भी जुड गया है जब चीन के सैनिकों को हमारे सैनिकों ने सबक सिखाया था। इतना ही नहीं पाकिस्तान में घुसकर सर्जीकल और एयर स्ट्राइक की थी।

Amit shah ने कहा कि अब भारत के प्रधानमंत्री को दुनियां में सम्मान के साथ देखा जा रहा है। 14 देशों का सर्वोच्च सम्मान प्रधानमंत्री को दिया गया है वहीं दस साल में भारत में जो परिवर्तन हुये उसे पूरी दुनियां देख रही है। पीएम मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था पांचवे स्थान पर पहुंचाई जबकि अटल जी की सरकार में 11 वें स्थान पर थी। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि 2024 में सरकार बनने पर अब भारत तीसरे नंबर पर होगा और इकोनोमी की स्थिति भी सुधरेगी।

Amit shah ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने भारत को परम वैभव पर ले जाने का सपना देखा था वह अब जल्द ही पूरा होगा। उन्होंने बताया कि नौ वर्षो में दलितों गरीबों को सरकार ने कई सुविधाएं दी ळै। अब कई देश मोदी के आतंकवाद और पर्यावरण पर दिये भाषणों को देखते हैं कि उन्होंने क्या कहा।

गरीबों की डिजीटल क्रांति को सीखने अब कई देश के लोग यहां आ रहे हैं। उन्होंने अंत में कहा कि स्व को दफना कर विजय का संकल्प लेकर अपने क्षेत्र में जाकर कार्य करें।

इससे पूर्व मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने अपने शासन काल की उपलब्धियां गिनाई । वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी भाजपा कार्य समिति को संबोधित किया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया भी अपने समर्थकों के साथ दिखे

बैठक में सिंधिया जी भी अपने समर्थकों के साथ नजर आए यहां उनके भोपाल से आए समर्थक भी दिखे जिनमें कृष्णा घाडगे भी सिंधिया जी के साथ नजर आए ज्योतिरादित्य सिंधिया मैं कार्यकर्ताओं को मंच से संबोधित किया और उनमें जीत के लिए जोश जगाया

PWD minister गोपाल भार्गव को सुरक्षा कर्मियों ने रोका

ग्वालियर में भाजपा के नेता PWD मंत्री गोपाल भार्गव को सुरक्षा कर्मियों ने गेट पर रोक दिया। इससे मंत्री आग बबूला हो गए गुस्से में मंत्री बाहर की तरफ निकलने लगे इसके बाद मौके पर पहुंचे अफसरों ने उनके आगे हाथ जोड़कर माफी मांगी है।

इस मामले पर कांग्रेस का कहना है कि सिंधिया समर्थकों ने जानबूझकर ऐसा करवाया है। आपको बता दें कि रविवार को ग्वालियर में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक आयोजित की गई है। इसमें शामिल होने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री Amit shah आए हुए हैं । पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव जीवाजी यूनिवर्सिटी के सभागार में आयोजित बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे थे यहां पर गेट पर प्रवेश के दौरान हुए सुरक्षाकर्मियों ने स्थानीय नेता समझकर उनको रोक लिया।

मंत्री गोपाल भार्गव इतने आग बबूला हो गए कि उन्होंने कहा की मैं अभी मुख्यमंत्री से बात करता हूं यह क्या मजाक बना कर रखा है। यह कहते हुए बाहर निकल गए जब गोपाल भार्गव के मंत्री होने की बात पता चली तो सुरक्षाकर्मियों ने उनके हाथ जोड़कर माफी मांगी इस दौरान वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

also read : BJP ने जारी की मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा candidates की 1st list

Leave a Reply