Canada Hindu temple में खालिस्तानी समर्थकों ने की तोड़फोड़, लगाए निज्जर की मौत पर जनमत संग्रह के पोस्टर

Canada Hindu temple : कनाडा में एक बार फिर एक Hindu temple को निशाना बनाया गया है। मुख्य दरवाजे पर नकाबपोशों ने भारतीय समुदाय के बीच डर पैदा करने के लिए खालिस्तानी हरदीप निज्जर की मौत पर जनमत संग्रह के पोस्टर भी लगाए हैं

कनाडा के ब्रैम्‍पटन मे Hindu temple में की तोडफोड:-

कनाडा में एक बार फिर एक Hindu temple को निशाना बनाया गया है। इस बार यह घटना ब्रैम्‍पटन की है जहा मंदिर की दिवारों पर भारत विरोधी बातें लिखी हैं। इस घटना से वहां बसे भारतीय समुदाय में काफी नाराजगी व डर का माहौल है। ब्रैम्पटन के मेयर ने मंदिर की दीवारों को भारत के लिए नफरत फैलाने वाले संदेश की कड़ी निंदा की है तथा मंदिर परिसर मे तोडफोड करने को गलत करार दिया है यह घटना तब हुई है जब भारत 15 अगस्‍त को अपना स्‍वतंत्र‍ता दिवस मनाने की तैयारी कर रहा है। इस साल कनाडा में यह तीसरी घटना है जिसमें किसी Hindu temple को निशाना बनाया गया है।

दरवाजे पर लगाए हरदीप निज्‍जर के पोस्‍टर:-

ब्रिटिश कोलंबिया में स्थित Hindu temple पर हमला करके खालिस्तानी समर्थको ने शनिवार आधी रात को तोड़फोड़ की । मंदिर के मुख्य दरवाजे पर खालिस्तान जनमत संग्रह के पोस्टर चिपकाए हैं। इन पोस्‍टर्स में हरजीत सिंह निज्‍जर की तस्‍वीर है। पोस्टर में लिखा है, ‘कनाडा 18 जून की हत्या में भारत की भूमिका की जांच कर रहा है।’ हरदीप सिंह निज्जर कनाडा के सरे में गुरु नानक सिख गुरुद्वारा साहिब का प्रमुख था। 18 जून की शाम को गुरुद्वारे के परिसर में दो अज्ञात लोगों ने खालिस्तानी आतंकी माने जाने वाले हरदीप सिंह निज्जर की हत्या कर दी थी .

Canada के हिंदू मंदिर में किए जाने वाली तोड़-फोड़ की यह तीसरी घटना है:-

हरदीप सिंह निज्जर, कनाडा के सुरे में स्थिति गुरु नानक सिख गुरुद्वारा साहिब के प्रमुख थे। निज्‍जर अलगाववादी संगठन खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) का प्रमुख था। इन पोस्‍टर्स में कनाडा में तैनात भारतीय राजनयिकों की फोटो भी लगी हुई हैं। एक साल के अंदर कनाडा में hindu temple पर किया गया यह तीसरा हमला है. 31 जनवरी को भी कनाडा में स्थित एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़ की गई थी, साथ ही मंदिर की दीवारों पर नफरत भरे संदेश भी लिखे थे. जिसके बाद वहां रहने वाले हिंदू समुदाय के लोगो में नाराजगी देखने को मिली थी.ब्रैम्पटन के मेयर, पैट्रिक ब्राउन ने इस घटना की निंदा भी करी थी.

Canada police ने जारी किया CCTV फुटेज:-

कनाडा के hindu temple में फिरसे खालिस्तानी समर्थकों ने तोड़-फोड़ की है. ये घटना सूर्यमंदिर की बताई जा रही है. सीसीटीवी वीडियो में साफ दिख रहा है कि दो लोग मंदिर के अंदर आते हैं और खालिस्तान को लेकर जनमत संग्रह कराने वाले हरदीप निज्‍जर के पोस्टर मंदिर के दरवाजे पर चिपका कर चले जाते हैं. पोस्टर चिपकाने के बाद इनमें से एक वीडियो बनाता भी दिख रहा है.

Canada सरकार क्या भारत कि आपत्ति को अनसुना कर रही:-

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने भारत के खिलाफ प्रदर्शनों और राजनयिकों को हिंसा का शिकार बनाने की अपील करने वालों के खिलाफ कठोर नजर रखने की घोषणा की है। ट्रुडो ने बताया कि उनकी सरकार ने हमेशा से हिंसा और धमकियों को बेहद गंभीरता से लिया है और कनाडा ने आतंकवाद के खिलाफ गंभीर कार्रवाई की है। उन्होंने भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर के बयान का उल्लंघन किया जिसमें उन्होंने कहा कि कनाडा में खालिस्तानियों की हरकतें इसलिए बढ़ रही हैं क्योंकि वे वोट बैंक की सियासत का हिस्सा हैं।

कनाडा में पिछले कुछ महीनों के दौरान खालिस्तान समर्थक तत्वों ने भारत के खिलाफ कई प्रदर्शन किए हैं। हाल ही में भारत ने इन तत्वों के पोस्टर और प्रॉपेगैंडा सामग्री को दिखाने के बाद कनाडा के हाई कमिश्नर को समन जारी किया था।

विदेश मंत्री जयशंकर ने बताया कि खालिस्तान समर्थकों की हरकतों के पीछे उनके वोट बैंक की सियासत से जुड़े होने का मामूल आदान-प्रदान है। उन्होंने यह भी दावा किया कि भारत के खिलाफ ऐसे प्रदर्शनों की अनुमति नहीं दी जाएगी जो देश की अखंडता और सुरक्षा को खतरे में डालते हैं।

इस पर कनाडा के प्रधानमंत्री ने जवाब में कहा कि उनकी सरकार ने हमेशा हिंसा के खिलाफ कठोर कदम उठाए हैं और वे आतंकवाद के खिलाफ भी सख्ती से खड़े हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि कनाडा ने आतंकवाद के खिलाफ गंभीर कार्रवाई की है और हमेशा करेगा।

यह घटनाक्रम भारत और कनाडा के बीच द्विपक्षीय संबंधों में एक नई मोड़ हो सकता है

also read : Indian Air Force को मिले Heron mark-2 dron सीमा निगरानी होगी मजबूत: चीन और पाकिस्तान सीमाओं पर तैनात

Leave a Reply